Rudraksh
 1 Mukhi Rudrakhsa
 2 Mukhi Rudrakhsa
 3 Mukhi Rudrakhsa
 4 Mukhi Rudrakhsa
 5 Mukhi Rudrakhsa
 6 Mukhi Rudrakhsa
 7 Mukhi Rudrakhsa
 8 Mukhi Rudrakhsa
 9 Mukhi Rudrakhsa
 10 Mukhi Rudrakhsa
 11 Mukhi Rudrakhsa
 12 Mukhi Rudrakhsa
 13 Mukhi Rudrakhsa
 14 Mukhi Rudrakhsa
 15 Mukhi Rudrakhsa
 16 Mukhi Rudrakhsa
 17 Mukhi Rudrakhsa
 18 Mukhi Rudrakhsa
 19 Mukhi Rudrakhsa
 20 Mukhi Rudrakhsa
 21 Mukhi Rudrakhsa
 
 
तेरह मुखी रुद्राक्ष
 
कहा जाता है कि तेरह तरह के रत्नों को धारण करने से भी मनुष्य को वह फल नहीं मिलता जो फल तेरह मुखी रुद्राक्ष को धारण करने से मिलता है। तेरह मुखी रुद्राक्ष में तेरह किस्म की धारियां होती हैं।
 

त्रयोदश मुखी रुद्राक्ष के लिए ऊँ ह्रीं नम: (Om Hreem Namah) मंत्र का जाप करना लाभकारी होता है। तुला राशि के लिए तेरह मुखी रुद्राक्ष लाभदायक होता है।
तेरह मुखी रुद्राक्ष के फायदे (Benefits of Terah Mukhi Rudraksha in Hindi): तेरह मुखी रुद्राक्ष वैवाहिक दंपतियों के लिए बेहद अहम माना गया है क्यूंकि इसे धारण करने से कामदेव व रति का आशीर्वाद प्राप्त होता है। यह रुद्राक्ष निसंतान दंपतियों को संतान प्रदान करता है।